Mera Khwab Tod Diya

क्या कहूँ उन #लोगों को, जिन्होंने मेरा #साथ छोड़ दिया,
क्यूँ छोटी सी #बात पर उन्होंने, मेरा #हाथ छोड़ दिया...
#ख़्बाहिश थी कि निभाऊँगा उनसे #दोस्ती ता-उम्र,
पर उन्होंने पहली #मुलाकात में ही मेरा #ख़्बाव तोड़ दिया...

कैसे समझाऊँ अपने अब इस #दिल के #तार को,
उन्होंने तो मेरे #दिल का तार ही मरोड़ दिया..
क्या करूँ, कैसे करूँ कुछ #समझ नहीं आता,
मैंने भी अब #किस्मत को अपनी, अपने #हालात पर छोड़ दिया...

WWW.DESISTATUS.COM

Soch ke Afsane kal ke

कर लिए जतन इतने, अपने आप को बदल के
फिर भी गुज़री #ज़िन्दगी, बस आसुओं में ढल के
यूं ही चलती रही ज़िंदगी ग़मों का कारवां लेकर,
पर न आया कोई रहगुज़र, न देखा साथ चल के
दिखता है दूर से तो लगता है कोई अपना है, मगर
जब गुज़रता है क़रीब से, रह जाते हैं हाथ मल के
जीना था जब अकेले ही तो फिर भीड़ क्यों दे दी,
मिलता है क्या तुझको खुदा, इंसान को यूं छल के
उम्र गुज़र गयी मोहब्बत के बिन जीते जीते,
अब गुजरेंगी सुबहो शाम, सोच कर अफ़साने कल के...

WWW.DESISTATUS.COM

Yaadon Ne Rula Diya

मेरी सबसे बडी #गलती
जो #लोगों ने मुझे
सर पर #चढा दिया...
क्यूँ #लोगों ने मुझे #ज़ालिम
जैसा बना दिया ?

था मैं #सच्चा जब थे
साथ सब #यार मेरे...
क्यूँ #Ego ने मेरे उनका
साथ छुड़ा दिया...

#चाहता हूँ कि मिल जाए,
वापस वो यार #पुराने..
पर बीते #वक़्त ने भी
मुझे यूँ #तड़पा दिया...

#जानता हूँ कि हूँ #नही
मैं #माफ़ी के काबिल...
पर #दोस्तो की #यादों  ने
मुझे हर #लम्हा रुला दिया...

WWW.DESISTATUS.COM

Mera Dil Ka Dard

काबू में नही रहता मेरे,
है आवारा हमारा #दिल...
#चाहत का जिसमें द्वीप जला,
है वो #प्यारा हमारा #दिल...
#मोहब्बत की बंजर बस्ती,
में रहता है #हमारा दिल...
जो #चाह ना सके हमको यारों,
उनको #चाहता हमारा #दिल......!!

WWW.DESISTATUS.COM

Zindagi tanha ho gayi

एक ज़िन्दगी थी, वो भी तन्हा हो गयी
जीने की #तमन्ना, न जाने कहाँ खो गयी
#दिल था अपना वो भी बे वफ़ा हो गया,
मुकद्दर की कुंजी, न जाने कहाँ खो गयी
ख़त्म हो गयीं दिल की तमाम ख्वाहिशें,
देखते ही देखते, #ज़िंदगी की शाम हो गयी
कल देखा था #ख़्वाब हमने हसीन कल का,
पर कल की तो हर बात ही, बेजुबाँ हो गयी
सीखा था हमने भी जीने का तरन्नुम,
मगर सुरों की ताज़गी, न जाने कहाँ खो गयी...

WWW.DESISTATUS.COM