Wo Jaan Deta Hai

जो हमे समझ ही नहीं सका ,
उसे हक है हमें बुरा समझने का...
.
जो हम को जान लेता है ,
वो हम पर जान देता है !!

WWW.DESISTATUS.COM

Desh Badalne Ki Baari

अभी तो नोंटों को बदला है,
अब देश बदलने की बारी है।
तुम सबका जो साथ रहा तो,
अब लाहौर की करनी तैयारी है।
देश हित में कष्ट उठा लो,
देशभक्त का फर्ज निभा लो।
अब तो न तुमको सरहद जाना है,
न करनी गोली बारी है।।

WWW.DESISTATUS.COM

Dil Mein Sare Dost Kaise

किसी ने हम से पूछा
इतने छोटे से दिल में
इतने सारे दोस्त कैसे समां जाते हैं;
हम ने कहा
वैसे ही जैसे छोटी सी हथेली में
सारे #जिंदगी की लकीरें समां जाती हैं

WWW.DESISTATUS.COM

Har Dil Ki Hasrat Hai

खूबियाँ और खामियाँ, इंसान की फितरत है,
कामयाबी पाने की हर #दिल में हसरत है ,
खामियों को छोड़ दें हम ,खूबियों को अपना लें,
ऊंचाईयां पाने को, ऐसी सोच की ज़रूरत है...

WWW.DESISTATUS.COM

Bibi Aur Maa?

वाह रे जमाने तेरी हद हो गई,
बीवी के आगे माँ रद्द हो गई !
बड़ी मेहनत से जिसने पाला,
आज वो मोहताज हो गई !
और कल की छोकरी, तेरी सरताज हो गई !
बीवी हमदर्द और माँ सरदर्द हो गई !
वाह रे जमाने तेरी हद हो गई.!!
पेट पर सुलाने वाली, पैरों में सो रही !
बीवी के लिए लिम्का, माँ पानी को रो रही !
सुनता नहीं कोई, वो आवाज देते सो गई !
वाह रे जमाने तेरी हद हो गई.!!
माँ मॉजती बर्तन, वो सजती संवरती है !
अभी निपटी ना बुढ़िया तू , उस पर बरसती है !
अरे दुनिया को आई मौत,
तेरी कहाँ गुम हो गई !
वाह रे जमाने तेरी हद हो गई .!!
अरे जिसकी कोख में पला, अब
उसकी छाया बुरी लगती,
बैठ होण्डा पे महबूबा, कन्धे पर हाथ जो रखती,
वो यादें अतीत की, वो मोहब्बतें माँ की, सब रद्द हो गई !
वाह रे जमाने तेरी हद हो गई .!!
बेबस हुई माँ अब, दिए टुकड़ो पर पलती है,
अतीत को याद कर, तेरा प्यार पाने को मचलती है !
अरे मुसीबत जिसने उठाई,  वो खुद मुसीबत हो गई !
वाह रे जमाने तेरी हद हो गई .!!!

WWW.DESISTATUS.COM