Page - 4

Waheguru Himmat De Di

Waheguru Himmat De Di punjabi love status

ਵਾਹਿਗੂਰੁ ਤੂੰ ਹਿੱਮਤ ਤਾਂ ਦੇ ਦਿੱਤੀ ਸੀ,
ਉਹਦੇ ਸਾਹਮਣੇ ਬੋਲਣ ਦੀ,
ਮੇਰੇ ਦਿਲ ਦੇ ਸੱਚ ਨੂੰ ਜਿੰਦਗੀ ਦੀ
ਤੱਕੜੀ ਵਿੱਚ ਤੋਲਣ ਦੀ,
ਵਾਹਿਗੂਰੁ ਬਸ ਹੁਣ ਓਹਨੂੰ ਵੀ ਤੂੰ ਹੀ,
ਹਿੱਮਤ ਦੇਣੀ ਏ ਫੈਸਲਾ ਲੈਣ ਦੀ
#ਦਿਲ ਦੀ ਸੱਚੀ ਗੱਲ ਕਹਿਣ ਦੀ,
ਬਹੁਤ Wait ਕੀਤੀ ਏ ਓਹਦੀ
ਇਕ ਹਾਂ ਦੀ ਕੁਝ ਦਿਨ ਤੇ ਰਾਤ ਤੋ,
ਦੇਖੀਂ ਕੀਤੇ ਮੁਕਰ ਹੀ ਨਾ ਜਾਵੇ
ਉਹ ਆਪਣੀ ਗੱਲਬਾਤ ਤੋਂ,
ਵਾਹਿਗੂਰੁ ਮੇਰਾ ਵਿਸ਼ਵਾਸ ਹੀ ਨਾ
ਉੱਠ ਜਾਵੇ ਆਪਣੇ ਆਪ ਤੋਂ...

Imtihaan aur bhi hain

Imtihaan aur bhi hain hindi shayari status

हम कोई अकेले नहीं, परेशान और भी हैं,
अभी तो देखा है क्या, मुकाम और भी हैं !
न समझो कि गुज़र गए फरेबों के दिन,
अभी तो ज़िंदगी में, कोहराम और भी हैं !
वो वादे वो इरादे सब झूठ हैं मेरे दोस्त,
अभी ठगने के लिए, इंतज़ाम और भी हैं !
कैसे छूट पाएंगे हम इस जिद्दो ज़हद से,
अभी हमारे सर पर, इल्ज़ाम और भी हैं !
न सोचो कि बात बस इतनी सी है दोस्त,
अभी इस नसीब के, इम्तिहान और भी हैं !!!

Boys better than Girls

Boys better than Girls hindi jokes status

लड़की: - लड़के तो नालायक होते हैं,
हम लड़कियां पढ़ाकू होती हैं !
लड़का: - लड़के भी किसी से कम नहीं होते
लड़की: - लड़कियां आगे हैं !
लड़का : - अच्छा एक सवाल का जवाब बता
लड़की: - हाँ पूछो...???
लड़का: - ऐसी क्या चीज़ है
जो फ्रिज में रखने पर भी गर्म ही रहती है ?
लड़की: - पता नहीं
::
;:
::
लड़का: - गरम मसाला 
देखा हम किसी से कम नहीं :D

Tu Rehndi Saahan Wich

Tu Rehndi Saahan Wich punjabi love status

ਤੇਰੇ ਜਾਣ ਦੇ ਮਗਰੋਂ ਮੈ ਉਲਝ ਗਿਆ ਸੀ,
ਜਿੰਦਗੀ ਦੇ ਔਖੇ ਰਾਹਵਾਂ ਦੇ ਵਿੱਚ
ਤੂੰ ਇਹ ਨਾ ਸਮਝੀਂ ਭੁੱਲ ਗਿਆ ਤੈਨੂੰ
ਤੂੰ ਅੱਜ ਵੀ ਰਹਿੰਦੀ ਸਾਹਾਂ ਦੇ ਵਿੱਚ...

ਮੇਰੀ ਰੂਹ ਤੋਂ ਉਸ ਦਿਨ ਤੂੰ ਵੱਖ ਹੋਵੇਗੀ
ਜਦ ਰੂਹ ਘੁਲ ਜਾਊ ਮੇਰੀ ਹਵਾਵਾਂ ਦੇ ਵਿੱਚ
ਤੂੰ ਇਹ ਨਾ ਸਮਝੀ ਭੁੱਲ ਗਿਆ ਤੈਨੂੰ
ਤੂੰ ਅੱਜ ਵੀ ਰਹਿੰਦੀ ਸਾਹਾਂ ਦੇ ਵਿੱਚ... <3

Har Chehre Pe Mukhauta

Har Chehre Pe Mukhauta hindi shayari status

आज तो दिल में, यादों का चमन सजा बैठा है,
अतीत का हर लम्हा, काबिले याद बना बैठा है !
वक़्त था कि रोज़ मिलते थे अपने यारों से हम,
अब तो कोई कहीं, तो कोई कहीं जमा बैठा है !
आये थे इस शहर में जोशो जवानी लेकर हम,
मगर अब कोई नाना, तो कोई दादा बना बैठा है !
आये थे आशाओं से भरा निश्छल दिल लेकर,
अब कोई अहम्, तो कोई वहम का मारा बैठा है !
हमने भी देखे थे कभी नज़ारे खुली आँखों से,
अब तो उन पर, ये बुढापे का चश्मा चढ़ा बैठा है !
क्या इसी को कहते हैं #ज़िंदगी जीना दोस्त कि,
जो था सहारा औरों का, अब लाचार बना बैठा है !
न पहचान पाओगे अपनों को भी अब,
अब हर कोई, अपने चेहरे पर मुखौटा लगा बैठा है !!!