Total Status: 770View Profile

Yun Badnaam Mat Kar

मेरी ज़िन्दगी को तू, यूं ही परेशान मत कर,
मेरी शराफ़तों को तू, यूं ही बदनाम मत कर !
कुछ तो ख़याल कर ले तू दुनिया जहान का,
तमाशा अपनी फ़ितरत का, सरेआम मत कर !
हर किसी को हक़ है कि वो कैसे जीये मगर,
अपने दिल को, नफरतों का ग़ुलाम मत कर !
ये ख्वाब तो टूटने के लिए ही होते हैं मेरे दोस्त,
ख़ुदा के वास्ते, औरों का जीना हराम मत कर !!!

Pyar Ka Dikhava Karte

किसी को अपनों में, खुशहालियाँ नज़र नहीं आतीं,
तो किसी को गैरों की, बदहालियाँ नज़र नहीं आतीं !
सब को औरों में हज़ार कमियां तो दिखती हैं दोस्तो,
मगर ख़ुद में किसी को, मदमाशियां नज़र नहीं आतीं !
करते हैं दिखावा प्यार का जो दिल में खोट रख कर,
कभी उनके चेहरे पर, वो रमानियाँ नज़र नहीं आतीं !
अरे अब तो ईमान की बातें लिखना छोड़ दो दोस्त ,
अब कहीं भी ईमान की, निशानियां नज़र नहीं आतीं !

Khush Hai Zindagi Se

Khush Hai Zindagi Se hindi shayari status

खुश है ज़िंदगी से जो, उसे आबाद रहने दो,
दिल की धड़कनें यूं ही, बे-आवाज़ रहने दो !
न उखाड़ो गढ़े मुर्दों को यूं ही बेसबब यारो,
यूं गुज़रे हुए लम्हों को, मत आज़ाद रहने दो !
नहीं है फरिश्ता कोई इस जमाने में अब तो,
संभालो खुद को ही, औरों की बात रहने दो !
न सिखाइये अपनी सरगम किसी को ,
जो खुश है जिस अंदाज़ में, वो अंदाज़ रहने दो !!!

Waqt Mila To Dekhenge

यहाँ कौन है अपना कौन पराया, वक़्त मिला तो देखेंगे,
किसने #दिल से दिल को मिलाया, वक़्त मिला तो देखेंगे !
कितनों ने वफ़ा से साथ निभाया, वक़्त मिला तो देखेंगे,
यहां कितनों से हमने धोखा पाया, वक़्त मिला तो देखेंगे !
जीवन के पथ पर चलते चलते हम हार गए हम टूट गए,
किस रस्ते ने हमको खूब सताया, वक़्त मिला तो देखेंगे !
सहते सहते अपनों की घातें दिल अपना हलकान हुआ,
कब कौन सा किसने तीर चलाया, वक़्त मिला तो देखेंगे !
करता सब के मन की रहा कितना ही भले नुक्सान हुआ,
इस जीवन में किसने ज़हर मिलाया, वक़्त मिला तो देखेंगे !
अपनों से मिल कर खुश होना अपने #नसीब में नहीं,
पर गैरों ने कितना #प्यार लुटाया, वक़्त मिला तो देखेंगे !!!

Gumaan Mat Kariye

न करनी है तुम्हें मदद, तो खुलेआम मत करिये,
मगर किसी की इज़्ज़त का, क़त्लेआम मत करिये !
ये दौलतें ये शौहरतें कभी साथ नहीं जातीं दोस्त,
इस बेकार की चीज पर, इतना गुमान मत करिये !
आता है तुम्हारे दर पे कोई तुम्हें अपना समझ कर,
यारो उसको ज़लील करने का, इंतज़ाम मत करिये !
ख़ुदा भी न कर सका कुछ भी मदद के बिना,
तुम तो बन्दे हो उसके, ज्यादा अभिमान मत करिये !!!