Khushiyon Ki Chahat

गर मंज़िल पास लानी है, तो ख्वाहिशें कम कर दो,
चाहत है अगर खुशियों की, तो रंजिशें कम कर दो !

अब दिखता है हर तरफ फिरकापरस्ती का आलम,
अगर जीना है तुम्हें चैन से, तो साजिशें कम कर दो !

ये सब दौलतें ये सौहरतें तो रहमत है बस खुदा की,
गर चाहो मोहब्बत सब की, तो नुमाइशें कम कर दो !

हर किसी को हक़ है कि जीए ज़िन्दगी अपनी तरह,
बचाये रखनी है अगर इज़्ज़त, तो बंदिशें कम कर दो !

सुकूँ हरगिज़ नहीं मिलता किसी को सताने से "मिश्र",
पानी है दोस्ती की दौलत, तो आजमाइशें कम कर दो !

Jeet Par Guman

इतना भी  गुमान न  कर
अपनी जीत पर ऐ बेखबर
शहर में तेरी जीत से ज्यादा
चर्चे तो मेरी हार के हैं !!!

Khud bhi badalna seekho

समय के साथ, खुद भी तो बदलना सीखो,
दुनिया के ढांचे में, खुद भी तो ढलना सीखो !

हर कदम पे मिलते हैं अजब किरदार अब,
वो कोंन कैसा है, खुद भी तो परखना सीखो !

करता है फ़ना खुद को वो औरों की खातिर,
तुम दीये की तरह, खुद भी तो जलना सीखो !

मिटा देती है हस्ती वो हमारी जीभ की खातिर,
कभी चीनी की तरह, खुद भी तो घुलना सीखो !

बरसता है बादल जमीं की ज़रुरत समझ कर,
औरों की ज़रूरतें, खुद भी तो समझना सीखो !

हर पत्थर समझता है कि इमारत उसी से है,
ऐसी ग़लतफ़हमी से, खुद भी तो बचना सीखो !

क्यों देखते हो हर किसी में सिर्फ कमियां ,
खुद में ख़ास क्या है, खुद भी तो मथना सीखो !

Ek Jhalak Kya Mili

एक 😍 हल्की सी 💓 झलक क्या मिली 
बेचैन 😔 #नज़रों 👀 को
#हज़ारों 👍 ख़्वाब 🗨 #दिल ❤ ने
देख डाले 👁 चंद ✌ #लम्हों मे

intzaar aaj bhi hai

उनका तो आज भी, इंतज़ार है हमको ,
उनसे आज भी बेपनाह, #प्यार है हमको !

इक दिन तो जरूर आएंगे लौट कर वो,
यारो इतना तो दिल में, क़रार है हमको !

हमने भी खेला है जुआं #ज़िंदगी का यारो,
जीतेंगे ये बाज़ी ज़रूर, ऐतबार है हमको !

रूठे हैं गर तो मनाने की जिद है हमारी,
वो देंगे गर सजा भी, स्वीकार है हमको !

वक़्त हमेशा एक जैसा नहीं रहता,
वो बदलेगा जरूर, बस इन्तज़ार है हमको !